न्यूजीलैंड की फॉन्टेरा डेयरी से फ्यूचर ग्रुप ने मिलाया हाथ, अमूल और मदर डेयरी को मिलेगी टक्कर

डेयरी टुडे नेटवर्क,
मुंबई, 11 अगस्त 2018,

दुनिया की सबसे बड़ी डेयरी एक्सपोर्टर कंपनी फॉन्टेरा ने भारत में डेयरी प्रॉडक्ट्स लॉन्च करने के लिए फ्यूचर ग्रुप के साथ ज्वाइंट वेंचर बनाया है। इसका नाम फॉन्टेरा फ्यूचर होगा। अमूल और मदर डेयरी के दबदबे वाले डेयरी मार्केट में एंट्री करने की यह फॉन्टेरा की दूसरी कोशिश है। फॉन्टेरा ने 2001 में ब्रिटानिया के साथ ज्वाइंट वेंचर करके भारत में पहली बार कदम रखा था, लेकिन 2007 में कंपनी इससे बाहर निकल गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फ्यूचर ग्रुप के सीईओ किशोर बियानी ने बताया, ‘डेयरी मार्केट में हम देश की यंग जेनरेशन के लिए नई कैटेगरी और इनोवेटिव प्रॉडक्ट्स लॉन्च करेंगे। यह ऐसा सेगमेंट है, जहां कस्टमर्स दिन में 3 से 4 बार कोई न कोई प्रॉडक्ट खरीदता है। हम अपने मौजूदा नीलगिरी डेयरी बिजनेस को नई कंपनी के साथ मर्ज करेंगे।’

आपको बता दें कि फॉन्टेरा कोऑपरेटिव 2001 में न्यूजीलैंड डेयरी बोर्ड के साथ दो प्रमुख डेयरी कोऑपरेटिव- किवी ऑपरेटिव डेयरीज और न्यूजीलैंड डेयरी ग्रुप के मर्ज होने के बाद बनी थी। फॉन्टेरा न्यूजीलैंड की सबसे बड़ी कंपनी है, जिसका रेवेन्यू 14 अरब डॉलर से भी ज्यादा है। वह भारत के गुजरात मिल्क कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन के साइज का दोगुना है, जो अमूल ब्रांड के तहत प्रॉडक्ट्स की बिक्री करती है।

फ्यूचर ग्रुप के एफएमसीजी सब्सिडियरी फ्यूचर कंज्यूमर्स (एफसीएल) के पास करीब 3 दर्जन ब्रांड्स हैं। इनमें से करीब आधे ब्रांड्स को बिग बाजार स्टोर्स के जरिए बेचा जाता है, जबकि करीब 21 पर्सेंट को नीलगिरी, हेरिटेज और ईजीडे जैसे रिटेल स्टोर्स पर बेचा जाता है।

फॉन्टेरा फ्यूचर रिटेल मार्केट में अपना पहला प्रॉडक्ट अगले साल के मध्य तक लॉन्च करेगी। कंपनी डायेरक्ट-टू-होम सब्सक्रिप्शन मॉडल को भी अपनाएगी। किशोर बियानी ने कहा, ‘इससे हमें बुनियादी जरूरतों और अपने संसाधनों के बेहतर इस्तेमाल के लिए तैयार करने में मदद मिलेगी क्योंकि हम दुनिया के सबसे बड़े और सबसे तेजी से बढ़ने वाले सेगमेंट में एंट्री करने जा रहे हैं।’ भारत में डेयरी सेक्टर में कंज्यूमर डिमांड के अगले 7 साल में बढ़कर 8.2 अरब लीटर पहुंचने का अनुमान है। यह चीन के डेयरी मार्केट से 7 गुना बड़ा है।

एरिसैग पार्टनर्स और वर्लिइनवेस्ट जैसे निवेशकों वाली एफसीएल अपने स्टोर्स के अलावा एक अलग डिस्ट्रीब्यूशन नेटवर्क तैयार कर रही है। कंपनी ने किराना स्टोर्स पर अपने प्रॉडक्ट को बेचने के लिए इंडो-निसिन के साथ पार्टनरशिप की है। कंपनी ने टाटा स्टार बाजार, मेट्रो और स्पर जैसे स्टोर्स को भी पार्टनर बनाया है। कंपनी ने राजस्थान के 5,000 दुकानों पर भी फेयर प्राइस पर प्रॉडक्ट को बेचने के लिए पार्टनर बनाया है।
(साभार-एनबीटी)

4700total visits.

3 thoughts on “न्यूजीलैंड की फॉन्टेरा डेयरी से फ्यूचर ग्रुप ने मिलाया हाथ, अमूल और मदर डेयरी को मिलेगी टक्कर”

  1. This is a welcome move for Indian Market , as it would benefit milk producers and Indian consumers. However ,if one need to be successful ,new JV to understand the required products profile for Indian market and this would be the success for a company.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें