Amul Micro ATM: गुजरात के इस गांव में डेयरी किसानों के लिए शुरू हुआ Micro ATM

Share

डेयरी टुडे नेटवर्क
राजकोट, 10 जून 2021,

गुजरात के राजकोट जिले के एक गांव में डेयरी किसानों के लिए अमूल माइक्रो एटीएम शुरू हुआ है। राज्य के राजकोट जिले का एक छोटा सा गांव आनंदपार बुधवार को डेयरी किसानों के लिए आधार आधारित अमूल माइक्रो एटीएम भुगतान केंद्र वाला देश का पहला गांव बन गया। लगभग 4000 लोगों की आबादी वाला एक छोटा सा गांव आनंदपार प्रतिदिन लगभग 2,000 लीटर दूध खरीदता है।

राजकोट जिला सहकारी दुग्ध उत्पादक संघ लिमिटेड के तहत गोपाल डेयरी से संबद्ध आनंदपार ग्राम डेयरी सहकारी समिति के सचिव द्वारा फिंगर स्कैनर वाली इलेक्ट्रॉनिक डेटा कैप्चर (ईडीसी) मशीन से नकदी निकालने के बाद अपनी तरह की पहली सेवा शुरू की गई। जीसीएमएमएफ और फि‍नटेक फर्म डिजिवृद्धि ने फेडरल बैंक के साथ भागीदारी कर संयुक्‍त रूप से इसे विकसित किया है। भागीदारी के तहत, फेडरल बैंक आनंदपुर ग्राम सहकारी सोसाएटी को हर महीने की 9, 19 व 29 तारीख को नकद राशि उपलब्‍ध कराएगा और ग्राम सहकारी सोसाएटी के सचिव बैंकिंग करेस्‍पॉन्‍डेंट के रूप में कार्य करेंगे। डिजिवृद्धि बैंक और ग्राम सहकारी सोसाएटी के बीच एक पुल का काम करेगी।

गुजरात कोऑपरेटिव मिल्क मार्केटिंग फेडरेशन लिमिटेड (जीसीएमएमएफ), जिसे अमूल के नाम से जाना जाता है, आने वाले दिनों में पूरे राज्य के साथ-साथ देश के अन्य हिस्सों में इस पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत करेगा। इस नई सुविधा से दूरदराज के क्षेत्रों में ऐसे डेयरी किसान, जिनके पास एटीएम की उचित सुविधा नहीं है, वे माइक्रो एटीएम का उपयोग करके दूध संग्रह केंद्रों या ग्राम दुग्ध समितियों से पैसे निकाल सकेंगे।

राजकोट डेयरी के अध्यक्ष गोरधनभी धमालिया ने कहा, अब कोई भी सदस्य मिल्क सोसाइटी आ सकता है और अमूल माइक्रो एटीएम के माध्यम से पैसे निकाल सकता है। यह डेयरी किसानों के लिए एक बड़ी राहत है, क्योंकि उन्हें अब दूर के बैंकों में नहीं जाना होगा। महामारी की स्थिति के बीच लेनदेन भी सुरक्षित हैं।

Share

3total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें