सेहत से खिलवाड: खुद ही करें मिलावटी मावा और मिठाई की जांच, जानें कैसें ?

Share

डेयरी टुडे नेटवर्क
नई दिल्ली, 13 अगस्त 2019,

रक्षाबंधन से पहले दिल्ली-एनसीआर, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश समेत पूरे उत्तर भारत में मिलावटी मिठाइयों और मावे का बाजार गर्म  है। कुछ बड़ी मिठाई की दुकानों को अगर छोड़ दें तो कहीं पर भी पूरी तरह शुद्ध खोये की मिठाई मिले इसकी कोई गारंटी नहीं है। कई बार पकड़े जाने के बाद भी कोई ठोस कार्रवाई होती नहीं दिखती। आलम ये होता है कि मजबूरी में लोग या तो ब्रांडेड दुकानों से दोगुने दामों में मिठाई खरीदते हैं या तो मिलावटी मिठाई का शिकार होते हैं।

खाद्य सुरक्षा विभाग मिलावटी मावा,पनीर और मिठाई बनाने वालों पर लगाम लगाने के तमाम दावे करता है, लेकिन ऐसा हो नहीं पाता। ऐसे में कैसे मिले मिलावटी मिठाइयों से छुटकारा और कैसे आप अपनी सेहत खराब होने से रोक सकते हैं, इसका समाधान हम आपको बता रहे हैं। आप कुछ आसान तरीकों से घर बैठे मिलावटी खोये से बनी मिठाई और सिंथेटिक दूध की जांच कर सकते हैं।

मिलावटी मिठाई और दूध की ऐसे करें जांच

– सिंथेटिक दूध, मावे और खोये से बनी मिठाई में मुख्य रूप से दो चीजों की मिलावट होती है. खोये में स्टॉर्च की तो वही दूध का प्रोटीन कंटेंट बढ़ाने के लिए यूरिया की, और दोनों ही हमारे सेहत के लिए हानिकारक हैं.

– स्टॉर्च और यूरिया की जांच के लिए आपको चाहिए थोड़ा सा आयोडीन सॉल्यूशन जो कि किसी भी केमिस्ट शॉप में आसानी से मिल जाएगा. इसके अलावा आपको चाहिए पराडीमेथील एमिनो बेनज़लडीहाइड, इसका भी सॉल्यूशन आपको केमिकल शॉप में मिल जाएगा.

-दूध पनीर या खोये की मिठाई में स्टॉर्च है या नहीं ये जानने के लिए एक कांच के बाउल में थोड़े से पनीर या मिठाई को गुनगुने पानी में पूरी तरह घुलने दें.

– जब पनीर और खोए की मिठाई पानी में पूरी तरह डिसॉल्व हो जाए तो उसमें चार से पांच ड्रॉप आयोडीन सॉल्यूशन मिला दें यही प्रक्रिया दूध के साथ भी करें.

– आयोडीन मिलाने के बाद अगर दूध, पनीर या खोए की मिठाई के सॉल्यूशन का रंग नीला हो जाए तो समझिए ये मिलावटी है.

– और अगर इस मिश्रण का रंग नहीं बदलता है तो इसका मतलब है कि ये शुद्ध है.

– यूरिया अक्सर सिंथेटिक दूध में मिलाया जाता है और उस दूध से बने पनीर या खोए में भी मिल जाता है.

– इसको टेस्ट करने के लिए पहले की तरह ही पनीर या खोए का गरम पानी में मिश्रण बना के उसमें कुछ ड्रॉप पराडीमेथील एमिनो बेनज़लडीहाइड की मिला दें

– अगर इसमें यूरिया की मात्रा होगी तो रंग पीला हो जाएगा.

तो इन आसान तरीकों से आप घर बैठे बिना किसी लैब के चक्कर काटे दूध, पनीर या खोये की मिठाई की जांच कर सकते हैं और अपने स्वास्थ को खराब होने से बचा सकते हैं।

निवेदन:– कृपया इस खबर को अपने दोस्तों और डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/DAIRYTODAY/ पर लाइक अवश्य करें। हमें Twiter @DairyTodayIn पर Follow करें।

Share

1647total visits.

2 thoughts on “सेहत से खिलवाड: खुद ही करें मिलावटी मावा और मिठाई की जांच, जानें कैसें ?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें