अजमेर डेयरी: एक बार फिर अध्यक्ष चुने गए रामचंद्र चौधरी, डेयरी विकास के लिए कई घोषणाएं कीं

Share

डेयरी टुडे नेटवर्क,
अजमेर, 18 अप्रैल 2021,

राजस्थान में अजमेर जिला दुग्ध उत्पादक सहकारी संघ (Ajmer Dairy) के लिए एकबार फिर रामचंद्र चौधरी निर्विरोध अध्यक्ष चुने गए हैं। रामचंद्र चौधरी के खिलाफ किसी ने भी नामांकन नहीं किया। इसके बाद चुनाव अधिकारी अनिल काबरा ने शनिवार को उन्हें निर्विरोध अध्यक्ष निर्वाचित घोषित कर दिया। श्री चौधरी अजमेर डेयरी के लगातार छठी बार अध्यक्ष निर्वाचित हुए हैं। इससे पहले शुक्रवार को अजमेर डेयरी के लिए संचालक मंडल के 12 सदस्य निर्विरोध निर्वाचित हुए थे। रामचंद्र चौधरी ने अजमेर डेयरी में एकबार फिर अपना दबदबा बनाए रखते हुए कीर्तिमान बनाया है। दुग्ध उत्पादक सहकारी समिति के 181 निर्वाचित सदस्यों में से सभी चौधरी के साथ रहे, जिसके चलते पहले निर्विरोध संचालक मंडल और अब डेयरी अध्यक्ष पर निर्विरोध निर्वाचन संपन्न हुआ।

निर्विरोध अध्यक्ष निर्वाचित होने के बाद रामचंद्र चौधरी सभी को धन्यवाद देते हुए कहा, “मैं आप सभी को विश्वास दिलाना चाहता हूँ कि इस कार्यकाल में मैं सच्चे सेवक की तरह कार्य करूंगा। मैं ईमानदारी पारदर्शिता एवं कठोर परिश्रम के साथ अपने जिला दुग्ध संघ को नयी ऊंचाइयों तक ले जाने का अथक प्रयास करूंगा। क्योंकि आप समस्त मतदाताओं ने सर्वसम्मति से मेरा और मेरे संचालक मण्डल का निर्वाचन किया है, इसमें अप्रत्यक्ष रूप से समस्त दुग्ध उत्पादकों का भरपूर योगदान रहा है। यह मेरे ऊपर अतुल्य ऋण है जिसे मैं सच्चे सेवक के रूप में ब्याज सहित चुकाने का प्रयास करूंगा।”

श्री रामचंद्र चौधरी ने कहा कि वे अगले दो वर्षो में सभी अधूरे पड़े कामों को पूरा करने के लिए काम करेंगे। जैसे कि 20 करोड़ की लागत में चीज़ प्लांट की स्थापना करना, 10 करोड़ की लागत में जर्मनी से आयतित चिप्लेट मशीन लगवाना, 10 करोड़ की लागत सोलर प्लांट लगवाना, 4 करोड़ की लागत में एलपीजी के स्थान पर नैचुरल गैस पद्धति लागू करना, नए प्लांट द्वारा निर्मित वैल्यू ऐडेड प्रॉडक्ट्स का रेफ़्रिजरेटेड ट्रकों द्वारा समस्त बूथों पर माल उपलब्ध करवाना, समस्त दुग्ध उत्पादकों को राष्ट्रीयकृत बैंक से अजमेर डेरी एवं सम्बंधित दुग्ध समिति की गारंटी पर पशु ऋण दिलवाना। उन्होंने कहा कि समस्त दुग्ध उत्पादक सहकारी समितियों को डीजल एवं पेट्रोल की बढ़ी हुई कीमतों के अनुपात में साइकल अलाउयन्स चिलिंग चार्ज तय किया जाएगा। साथ ही सचिवों का वेतनमान भी वर्तमान महंगाई के अनुपात में तय किया जाएगा।

श्री चौधऱी के मुताबिक एक वर्ष के अंतराल में गाय के दूध का संकलन अलग करके उपभोक्ताओं तक पहुंचाया जाएगा। पशुपालकों को देश-विदेश की पशुपालन की नयी तकनीक से अवगत करवाने के लिए पशुपालन प्रशिक्षण शिविर युद्धस्थर पर देश के जाने माने विशेषज्ञों से आयोजित करवाए जाएंगे, भारत सरकार से एनसीडीसी के माध्यम से 7 करोड़ रुपये के बकाया अनुदान प्राप्त करने के लिए प्रयास किये जाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश के अन्य ज़िला संघो को अपने संघ द्वारा उत्पादित वैल्यू ऐडेड प्रॉडक्ट्स सप्लाई किए जाएंगे, प्रदेश एवं देश के अन्य जिला संघो के अतिरिक्त दुध को मंगवाकर उनसे वैल्यू ऐडेड प्रॉडक्ट्स बनवाए जाएंगे। इससे अजमेर डेरी को अतिरिक्त आय होगी। रामचंद्र चौधरी ने बताया कि अजमेर जिले के समस्त उपभोक्ताओं के लिए “सरस आपके द्वार” कार्यक्रम चलाया जाएगा।

Note:– कृपया इस खबर को अपने दोस्तों और डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.co m/DAIRYTODAY/ पर लाइक अवश्य करें। हमें Twiter @DairyTodayIn पर Follow करें।

Share

2total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें