BHU के दक्षिणी परिसर बरकछा के पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान संकाय को मिली मान्यता

Share

डेयरी टुडे नेटवर्क,
वाराणसी/मीरजापुर, 7 जून 2021,

मीरजापुर के बरकछा स्थित काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) दक्षिणी परिसर में संचालित पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान संकाय को वेटनरी काउंसिल आफ इंडिया (वीसीआई) ने सशर्त मान्यता दे दी है। इसको लेकर डायरेक्टर डा. जी कृष्ण किशोर ने रजिस्ट्रार बनारस हिदू विश्वविद्यालय को पत्र जारी किया है। विश्वविद्यालय को छह माह में प्रोफेसर और एसोसिएट प्रोफेसर की नियुक्ति संग सभी आवश्यक मानकों को पूरा करना होगा। पशु चिकित्सा संकाय को मान्यता मिलने से छात्र-छात्राओं में हर्ष व्याप्त है। आचार्य प्रभारी व पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान संकाय प्रमुख प्रो. रमा देवी निम्मनापल्ली इसके लिए प्रयासरत थी। उनके अथक प्रयास के चलते पशु चिकित्सा संकाय को मान्यता मिली है।

आपको बता दें कि बीएचयू के बरकछा परिसर में पशु चिकित्सा संकाय को बने हुए चार वर्ष हो गए हैं, लेकिन आज तक मान्यता नहीं मिली थी। वेटनरी साइंस में वर्ष 2017, 2018, 2019 बैच के छात्र-छात्राएं पढाई कर रहे हैं। मान्यता नहीं होने की वजह से इन विद्यार्थियों को इंटर्नशिप कराने की आज तक कोई व्यवस्था नहीं हो पा रही थी। बरकछा स्थित बीएचयू दक्षिणी परिसर में संचालित पशु चिकित्सा संकाय को मान्यता मिलने से छात्र-छात्राओं में खुशी की लहर है। बीते 9 अप्रैल से छात्र-छात्राओं ने पशु चिकित्सा संकाय की मान्यता और ईंटर्नशिप आदि की मांगों को लेकर विभाग के मुख्य द्वार पर ताला जड़ते हुए पढ़ाई ठप कर दी थी। छात्रों की समस्याओं को देखते हुए वेटनरी काउंसिल आफ इंडिया (वीसीआई) ने डिपार्टमेंट में प्रोफेसर और एसोसिएट प्रोफेसर के रिक्त पदों को 6 महीने के भीतर भरने की शर्त के साथ संकाय को मान्यता दे दी है। मतलब साफ है कि अगर निश्चित समय के अंदर अगर विश्वविद्यालय सारे मानकों को पूरा नहीं करता है तो उसकी जिम्मेदारी विश्वविद्यालय प्रशासन की होगी।

आचार्य प्रभारी व पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान संकाय प्रमुख प्रो. रमादेवी निम्मनापल्ली के मुताबिक वेटनरी काउंसिल आफ इंडिया (वीसीआई) ने पशु चिकित्सा संकाय को सशर्त मान्यता प्रदान की है। कमियों को आगामी छह माह में पूरा करने का समय मिला है। मान्यता मिलने के बाद अब छात्र-छात्राओं को इंटर्नशिप आदि में कोई परेशानी नहीं होगी।

Note:– कृपया इस खबर को डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.co m/DAIRYTODAY/ पर लाइक अवश्य करें। हमें Twiter @DairyTodayIn पर Follow करें।

Share

5total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें