‘मुद्रा’ लोन लेकर शुरू करें Dairy का सदाबहार बिजनेस, होगी लाखों की कमाई!

डेयरी टुडे नेटवर्क,
नई दिल्ली, 29 मई 2020,

कोरोना संकट से बाजार और अर्थव्यवस्था को जो चोट पहुंची है, उसमें कमाई का बस एक ही कारगर उपाय है- स्वरोजगार। हम आपको डेयरी से जुड़े बिजनेस और उसे शुरू करने में मिलने वाली सरकारी सहायता के बारे में बता रहे हैं।  दूध, दही, मक्खन, पनीर, छाछ का काम यानि डेयरी का बिजनेस ( Dairy Business ) ऐसा काम है, जो किसी भी सीजन, किसी भी समय कम नहीं होता है। आपने देखा होगा कि कोरोना लॉकडाउन के दौरान भी दूध और डेयरी का धंधा खूब चलता रहा। इस धंधे पर सर्दी, गर्मी, बारिश किसी का भी असर नहीं पड़ता है। कहने का मतलब यह है कि हर समय डेयरी उत्पादों ( Dairy Products ) की मांग बनी रहती है।

Read Also: 15,000 करोड़ के फंड से डेयरी सेक्टर में सृजित होंगी 30 लाख नौकरियां, दुग्ध उत्पादन भी बढ़ेगा : सोढ़ी

मुद्रा स्कीम के तहत लगाएं डेयरी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट

इस समय अगर सबसे चोखा कोई धंधा है तो वो है डेयरी का बिजनेस। डेयरी टुडे के पास डेयरी का बिजनेस खोलने के लेकर लगातार फोन आते हैं, और लोग इसके बारे में जानकारी चाहते हैं। आपको जरूर मालूम होगा की केंद्र सरकार ने जो आर्थिक पैकेज का ऐलान किया है, उसमें डेयरी को लेकर 15 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया है। सरकार की मुद्रा ( Mudra Scheme ) स्कीम के तहत आप डेयरी प्रोडक्ट की मैनुफैक्चरिंग यूनिट लगा सकते हैं। मुद्रा स्कीम की वेबसाइट पर अगर आप जाएंगे तो पाएंगे कि सरकार ने डेयरी के बिजनेस के लिए अलग से एक प्रोजेक्ट रिपोर्ट बनाई है।

Read also: इस साल Dairy Products के उत्पादन में 10% वृद्धि का अनुमान

मुद्रा के तहत 70 फीसदी तक लोन

प्रधानमंत्री Mudra Yojna के तहत सरकार छोटे उद्मियों को बिजनेस शुर करने के लिए मदद करती है और इसमें डेयरी उद्योग भी शामिल है। मान लीजिए अगर आप 16 लाख रुपये का प्रोजेक्ट लगाना चाहते हैं तो आपको सिर्फ 5 लाख रुपये की जरूरत होगी। क्योंकि 70 फीसदी तक लोन सरकार की तरफ से मिलेगा। डेयरी प्रोडक्ट्स ( Dairy Products ) में आप फ्लेवर मिल्‍क, दही, बटर मिल्‍क और घी बनाकर बेच सकते हैं।

Read also : गिर गाय के डेयरी फार्म से लाखों की कमाई, प्रगतिशील किसान प्रतीक रावल की Success Story

छोटी सी जगह पर शुरू करें डेयरी बिजनेस

डेयरी का बिजनेस शुरू करने के लिए किसी बहुत बड़ी जगह या लोकेशन की जरूरत नहीं होती है। डेयरी बिजनेस छोटी जगह पर भी शुरू हो सकता है। शुरुआत में छोटे स्तर पर काम शुरू करने के लिए आपके पास 1000 स्कवायर फीट की जगह होनी चाहिए। 500 स्कवायर फीट की जगह प्रोसेसिंग एरिया बनाने के लिए, 150 स्कवायर फीट रेफ्रिजरेशन रूम के लिए, वाशिंग एरिया के लिए 150 स्कवायर फुट और ऑफिस स्पेस के लिए 100 वर्ग फुट की जगह चाहिए होगी ।

Read also: युवा डेयरी किसान राहुल शर्मा की Success Story, हर महीने 80 हजार रुपये की कमाई!

एक साल में कम से कम 8 से 10 लाख रुपये का मुनाफा

प्रधानमंत्री मुद्रा स्कीम ( Mudra Loan ) के प्रोजेक्ट प्रोफाइल के मुताबिक एक साल में आप लगभग 75,000 लीटर फ्लेवर्ड मिल्क ( Flavourd Milk ) सेल कर सकते हैं, इसके अलावा लगभग 36,000 लीटर दही, बटर मिल्क 90, 000 लीटर और 4,500 लीटर घी बना कर सेल कर सकते हैं। एक अनुमान के मुताबिक एक साल में इतना बिजनेस होने पर आपका लगभग 82.50 लाख रुपये का टर्नओवर हो जाएगा। जिसमें आपको लगभग 74 लाख रुपये की लागत होगी, जबकि 14 प्रतिशत ब्याज निकालने के बाद भी आपको लगभग 8 से 10 लाख रुपये की बचत हो सकती है।

Read also: आर्थिक पैकेज : जानिए डेयरी और पशुपालन सेक्टर को मिली कितने हजार करोड़ रुपये की मदद

Note:– कृपया इस खबर को अपने दोस्तों और डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/DAIRYTODAY/ पर लाइक अवश्य करें। हमें Twiter @DairyTodayIn पर Follow करें।

333total visits.

4 thoughts on “‘मुद्रा’ लोन लेकर शुरू करें Dairy का सदाबहार बिजनेस, होगी लाखों की कमाई!”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें