जानिए मोदी सरकार की किन योजनाओं से खेती-पशुपालन के लिए मिलेगी ’25 लाख’ की आर्थिक मदद

डेयरी टुडे नेटवर्क,
बरेली, 28 जून 2019,

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और उनकी सरकार किसानों और पशुपालकों के आर्थिक उत्थान के लिए प्रतिबद्ध है। मोदी सरकार लगातार ऐसा योजानाएं ला रही है, जिनसे किसानों और पशुपालकों को फायदा हो। गुरुवार को उत्तर प्रदेश के बरेली स्थित भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान (IVRI) में उत्तर प्रदेश कृषि अनुसंधान परिषद के अध्यक्ष कैप्टन विकास गुप्ता ने केंद्र सरकार की ऐसी ही दो परियोजनाएं ‘नवोदय-2019’ और ‘समृद्धि-2019’ लांच कीं।

नए लोगों को 5 लाख और अनुभवी लोगों को 25 लाख की मदद

‘नवोदय-2019’ नाम की योजना में काम करने के लिए कृषि और पशुपालन के क्षेत्र में अनुभव नहीं होने पर भी स्टार्टअप के लिए पांच लाख रुपये मिलेंगे। वहीं, ‘समृद्धि-2019’ में अनुभवी युवाओं को 25 लाख रुपये तक की सहायता दी जाएगी। IVRI के निदेशक डॉ. राजकुमार सिंह ने बताया कि दोनों योजनाओं के लिए आवेदन पत्र 29 जून को भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान (IVRI) की वेबसाइट पर मिलेंगे। चयनित होने वालों को पहले प्रशिक्षण और फिर आर्थिक सहायता दी जाएगी।

प्रशिक्षण के दौरान हर महीने 10 हजार रुपये भी मिलेंगे

उन्होंने बताया कि आवेदन शुरू होने के बाद भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान पहले प्रोजेक्ट देखेगा। इनमें बेहतर प्रोजेक्ट वाले आवेदकों को प्रशिक्षण के लिए चुना जाएगा। नवोदय-2019 में युवाओं को दो महीने तक विशेषज्ञों से प्रशिक्षण और दस हजार रुपये मिलेंगे। वहीं, समृद्धि-2019 के तहत स्टार्टअप से पूर्व प्रशिक्षुओं को आठ सप्ताह का प्रशिक्षण, विशेषज्ञों की सलाह, और संस्थान की प्रयोगशालीय सहायता मिलेगी। बेहतर ट्रेनिंग पाने वालों को उनकी परियोजना में मिलने वाली मदद के लिए चुना जाएगा।

निम्न प्रोजेक्ट को चुना जा सकता है-

  • संस्थान खाद्य प्रसंस्करण
  • पशुधन एवं कुक्कुट पालन
  • एकीकृत पशुधन पालन एवं जैविक पशुपालन
  • पशु प्रजनन एवं अनुवांशिकी
  • पशुचिकित्सा टीका
  • नैदानिक और जैव प्रौद्योगिकी उत्पाद
  • पशुचिकित्सा औषधि एवं स्वास्थ्य सेवा
  • पशुचिकित्सा प्रसार सेवा
  • पशु खाद्य उद्योग और खाद्य प्रौद्योगिकी
  • ई-मार्केट और आपूर्ति प्रबंधन
  • हिमीकृत वीर्य बैंक
  • पशुधन स्वास्थ्य एवं उत्पादन के लिए आधुनिक टूल
  • पशुचिकित्सा पॉलीक्लीनिक और पालतू पशुओं के क्लीनिक के साथ सचल पशुचिकित्सा क्लीनिक

IVRI के शोध कार्यों की सराहना

इस अवसर पर कृषि अनुसंधान परिषद के अध्यक्ष ने IVRI के शोध कार्यों की सराहना की। उन्होंने कहा कि संस्थान में कृषि और पशुपालन से संबंधित उद्यमिता विकास के लिए कार्य की रूपरेखा तैयार हो रही हैं। वहीं, आइवीआरआइ के निदेशक डॉ. राजकुमार सिंह ने उत्तर प्रदेश कृषि अनुसंधान परिषद से लगातार सहयोग मिलने की उम्मीद जताई। संयुक्त निदेशक(शोध) डॉ. बीपी मिश्रा ने संस्थान में वैज्ञानिकों के विभिन्न शोध, परियोजनाओं एवं वैज्ञानिक गतिविधियों की जानकारी समीक्षा बैठक के दौरान दी।
(साभार-दैनिक जागरण)

नोट:– कृपया इस खबर को अपने दोस्तों और डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/DAIRYTODAY/ पर लाइक जरूर करें….

4953total visits.

11 thoughts on “जानिए मोदी सरकार की किन योजनाओं से खेती-पशुपालन के लिए मिलेगी ’25 लाख’ की आर्थिक मदद”

  1. हमारी दो डेयरी फार्म है जिसमें 52 बड़े पशु और 27 छोटे पशु है 4 साल का अनुभव है

    1. पूरे देश में हैं केंद्र सरकार की ये योजनाएं। आप अपने जिले में कृषि और पशुपालन विभाग से संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें