‘किसान की बात किसान के द्वार’, यूपी में कांग्रेस ने शुरू किया अभियान, 3 करोड़ किसानों से मिलेंगे कांग्रेस नेता

Share

डेयरी टुडे नेटवर्क,
लखनऊ, 7 फरवरी 2020,

लखनऊ में कांग्रेस पार्टी ने भाजपा सरकार को घेरने और उसकी किसान कल्याण योजनाओं की पोल खोलने के लिए किसान जन जागरण अभियान ‘किसान की बात किसान के द्वार’ की शुरुआत की है। 5 चरणों में 40 दिनों तक चलने वाले किसान जन जागरण अभियान में हर दिन 300 किसान परिवार से मांगपत्र भरवाने के साथ 12000 नुक्कड़ सभा और 800 से अधिक प्रदर्शन-घेराव भी किए जाएंगे। गुरुवार को लखनऊ में प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा प्रदेश कार्यालय पर इसकी विधिवत शुरुआत की गई।

गुरुवार को बाराबंकी के देवा ब्लॉक में आयोजित किसान जनजागरण अभियान की शुरुआत सूबे के पार्टी अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने की और गांव में किसानों के चौखट पर पहुंच मांग पत्र भरा। इस मौके पर लल्लू ने यह भी कहा कि यह यात्रा किसानों को उनका हक दिलवाने तक जारी रहेगी। कांग्रेस पार्टी इस अभियान के माध्यम से यूपी के करीब पौने तीन करोड़ लोगों से सीधा संवाद भी करेगी। कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष श्री अजय कुमार लल्लू ने कहा, ‘आज पूरे सूबे के किसान भाजपा की किसान विरोधी नीतियों और आवारा पशुओं के आतंक से पूरा प्रदेश का किसान परेशान है।’ उन्होंने कहा कि ‘सूबे में लगातार बिजली का बिल बढ़ाया जा रहा है, कर्जमाफी के नाम पर किसानों को भाजपा सरकार ने छला है। गन्ना किसानों का बकाया भुगतान अभी तक नहीं हुआ है और तो ऐर योगी सरकार में गन्ने का एक रुपया दाम भी नहीं बढ़ाया गया है।’

इसे भी पढ़ें: Budget 2020: मोदी सरकार के बजट से किसानों में निराशा, सिर्फ बड़े-बड़े दावे,हकीकत में ‘जीरो’ है बजट

 

कांग्रेस पार्टी ने इस अभियान को सफल बनाने के लिए पूरे सूबे में अपने 25 हज़ार कांग्रेस कार्यकर्ताओं को मैदान में उतारा है जो गांव-गांव जाकर किसानों से संपर्क साधने का काम करेंगे। इसके साथ ही साथ कांग्रेस पार्टी 17 फरवरी से 23 फरवरी तक प्रदेश के सभी ब्लाकों में दो- दो नुक्कड़ सभा करके किसान विरोधी सरकार की करतूतों को उजागर करने का काम करेगी। इस तरह लगभग 12 हज़ार नुक्कड़ सभा पूरे प्रदेश में कांग्रेस के नेता आयोजित करेंगे।

इसे भी पढ़ें: Budget 2020: मोदी सरकार के बजट से किसानों में निराशा, सिर्फ बड़े-बड़े दावे,हकीकत में ‘जीरो’ है बजट

आपको बता दें कि पांच चरणों चलाए जा रहे इस अभियान की कांग्रेस पार्टी ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर सूबे की मौजूदा योगी सरकार को घेरने की जोरदार तैयारी की है। उस अभियान के दूसरे चरण में भाजपा के विधायकों-सांसदों को किसानों के मुद्दे पर ‘सरकार जगाओ-किसान बचाओ’ नारे के साथ ज्ञापन दिया जायेगा। जबकि तीसरे चरण में तहसील दिवस पर प्रदर्शन किया जायेगा और पीड़ित किसानों का नाम लेकर उनकी समस्याओं को हाईलाइट किया जायेगा ताकि प्रशासन उस किसान की समस्या हल करे। अभियान के तहत कांग्रेस के कार्यकर्ता चौथे चरण में सूबे के हर जिले में जिलाधिकारी का घेराव भी करेंगे और पूरे अभियान के दौरान सूबे में करीब 800 प्रदर्शन करने की योजना बनाई गई है। इस घेराव में जनप्रतिनिधियों, प्रशासनिक अधिकारियों को किसानों की समस्या पर घेरा जायेगा। पांचवे चरण में लखनऊ में एक बड़ा किसान मार्च भी निकाल कर सरकार को बार बार किसानों के साथ हो रहे अन्याय की जानकारी देशवासियों तक पहुंचाई जाएगी।

कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा ने कहा, ‘भाजपा की केंद्र और प्रदेश की सरकार किसानों को ठग रही है, प्रदेश का एक-एक किसान त्रस्त है। भाजपा सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने की बात की थी लेकिन किसानों को उनकी फसलों का दाम तक नहीं मिल रहे हैं. किसान आत्महत्या करने पर मजबूर है। भाजपा की सरकारों को कांग्रेस की प्रदेश सरकारों से सीखना चाहिए।’ कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा मोना ने यह भी कहा कि कांग्रेस की सरकार में कृषि विकास दर दोगुनी थी लेकिन आज देश के अन्नदाताओं की हालत लगातार बदतर होती जा रही है.

निवेदन:– कृपया इस खबर को अपने दोस्तों और डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/DAIRYTODAY/ पर लाइक अवश्य करें। हमें Twiter @DairyTodayIn पर Follow करें।

Share

751total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें