अगले 3-4 साल में ₹800 करोड़ इनवेस्ट करेगी Mother Dairy!

डेयरी टुडे नेटवर्क,
नई दिल्ली, 9 नवंबर 2022,

Mother Dairy अगले कुछ सालों में करीब 800 करोड़ रुपये का निवेश करने जा रही है। मदर डेयरी दूध और दूध से बने उत्पाद (Milk and Milk Products) बनाती है। उसने उत्पादों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए पूंजी निवेश करने की योजना बनाई है।

मनीकंट्रोल से बातचीत में मदर डेयरी के मैनेजिंग डायरेक्टर मनीष बंदिश ने कहा कि पूंजी निवेश के तहत एक नया प्लांट लगाने का भी प्लान है। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित प्लांट में हमारे सफल ब्रांड (Safal Brand) के तहत प्रोसेस्ड फूड आइटम्स का उत्पादन होगा। उन्होंने कहा, “हम जल्द पूंजी निवेश का प्रस्ताव बोर्ड के सामने पेश करेंगे। यह निवेश 700-800 करोड़ रुपये का हो सकता है। यह निवेश अगले 3 से 4 साल में होगा।” उन्होंने कहा कि आइसक्रीम, चीज और पैकेज्ड दही सहित कई कैटेगरी में हमारे उत्पादों की सप्लाई डिमांड के मुकाबले कम है।

Mother Dairy के एमडी ने कहा कि नए प्लांट से हमें डिमांड और सप्लाई के बीच के अंतर को दूर करने में मदद मिलेगी। इस साल ज्यादा समय तक गर्मी पड़ने की वजह से आइस क्रीम की मांग 10 फीसदी से ज्यादा बढ़ी है। पिछले दो साल में होटल्स, रेस्टोरेंट्स और कैटरिंग की सेल्स कमजोर रही है, लेकिन कंज्यूमर बिजनेस का प्रदर्शन बहुत अच्छा रहा है।

फाइनेंशियल ईयर 2019-20 से अब तक छाछ, दही, फ्रेश प्रोडक्ट्स सहित कई कैटेगरी में ग्रोथ 30-40 फीसदी रही है। उन्होंने कहा कि पिछले दो साल में इन-हाउस कंजम्प्शन काफी बढ़ा है। हमने कोरोना की महामारी के दौरान अपने बूथ्स खुले रखे, जिससे हमारी ग्रोथ काफी अच्छी रही।

इस फाइनेंशियल ईयर में मदर डेयरी का टर्नओवर 15,000 करोड़ रुपये रहने की उम्मीद है। यह पिछले फाइनेंशियल ईयर के मुकाबले 20 फीसदी ज्यादा है। इसमें वॉल्यूम और वैल्यू में अच्छी ग्रोथ का हाथ होगा। फाइनेंशियल ईयर 2019-20 में मदर डेयरी का टर्नओवर करीब 10,500 करोड़ रुपये था।

श्री बंदिश ने कहा कि इनफ्लेशन की प्रॉब्लम अगले छह महीने तक बनी रह सकती है। उन्होंने कहा, “सप्लाई साइड के सामान्य होने में छह महीने से एक साल का समय लग सकता है। हमें उम्मीद है कि इस दौरान किसान और रूरल सेक्टर काफी निवेश करेगा। इससे सप्लाई में आ रही दिक्कतें दूर होंगी।”

74total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें