असम में डेयरी विकास के लिए राज्य सरकार और NDDB के बीच समझौते पर हस्ताक्षर

डेयरी टुडे नेटवर्क,
गुवाहाटी, 7 जनवरी 2022,

असम में डेयरी सेक्टर के विकास के लिए शुक्रवार को केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन एवं डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला की मौजूदगी में राष्ट्रीय डेयरी विकास बोर्ड (एनडीडीबी) और असम सरकार के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्‍ताक्षर किए गए। इस अवसर पर केंद्रीय डेयरी और पशुपालन मंत्री ने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दृष्टिकोण को साकार करने में पशुपालन क्षेत्र सहायता कर सकता है।


केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने अपने संबोधन में असम में डेयरी क्षेत्र में वृद्धि और विकास को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार द्वारा किए गए अभियानों की सराहना की। उन्होंने कहा कि पशुपालन क्षेत्र में नई टेक्नोलॉजी किसानों तक पहुंचनी चाहिए, जिससे उन्हें इसका लाभ प्राप्त हो सके।

केंद्रीय मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला ने असम के मुख्यमंत्री डॉ. हिमंता बिस्वा सरमा के साथ असम कृषि व्यवसाय एवं ग्रामीण परिवर्तन परियोजना के अंतर्गत पूर्बी डेयरी विस्तार परियोजना का शिलान्यास भी किया।

इस अवसर पर असम के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा की गई पहलों के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था में बदलाव आएगा और इससे डेयरी क्षेत्र को भी बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने आगे कहा कि एमओयू के अंतर्गत असम में राज्य सरकार और एनडीडीबी के बीच 2,000 करोड़ रुपये के संयुक्त उद्यम की स्थापना की जाएगी।

असम सरकार में कृषि, पशुपालन, डेयरी और सहकारिता मंत्री अतुल बोरा ने अपने संबोधन में कहा कि यह उद्यम राज्य में श्वेत क्रांति लेकर आएगा। इस संयुक्त उद्यम का उद्देश्य प्रतिदिन 10 लाख लीटर से ज्यादा दूध के संभालने और मूल्यवर्धन करने के लिए दुग्ध प्रसंस्करण क्षमताओं का निर्माण करना है। उन्होंने कहा कि इससे न केवल 1.75 लाख से ज्यादा किसानों की आय में बढ़ोत्तरी होगी, बल्कि इससे दुग्ध मूल्य श्रृंखला के विभिन्न स्तरों पर रोजगार के बहुत सारे अवसर भी उत्पन्न होंगे।

इस कार्यक्रम में मिजोरम के पशुपालन और पशु चिकित्सा मंत्री डॉ के. बिछुआ, एनडीडीबी के अध्यक्ष मीनेश शाह, असम सरकार के सहकारिता विभाग में अतिरिक्त मुख्य सचिव मनिंदर सिंह और केंद्रीय पशुपालन एवं डेयरी अतुल चतुर्वेदी भी उपस्थित रहे।

3814total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें