डेयरी खोलने वाले प्रवासी कामगार नागेंद्र के हौसले की पीएम मोदी ने की तारीफ

डेयरी टुडे नेटवर्क,
नई दिल्ली, 26 जून 2020,

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को ‘आत्मनिर्भर उत्तर प्रदेश रोजगार अभियान’ का शुभारंभ किया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने इस योजना के लाभार्थियों से बातचीत की और उनके अनुभवों को सुना। इसी दौरान गोरखपुर के प्रवासी कामगार नागेंद्र से भी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की और डेयरी खोलकर आजीविका कमाने के उसके हौसले की जमकर तारीफ की। नागेंद्र ने बताया कि वो अहमदाबाद में बरतन बनाने की फैक्ट्री में काम करता था और कोरोना लाॉकडाउन के बाद अपने घर गोरखपुर लौट आया है। यहां उसने एक लाख रुपये का मुद्रा लोन लेकर डेयरी (Dairy) का काम शुरू किया है।

एक भैंस की डेयरी से कमा रहे 11 हजार रुपये महीने

प्रधानमंत्री मोदी ने नागेंद्र से पूछा कि डेयरी के लिए लोन लेने के दौरान बैंक वालों उसे परेशान तो नहीं किया। इस पर नागेंद्र ने जवाब दिया कि उसे आसानी से बैंक से लोन मिल गया। उस पैसे से उसने एक भैंस खरीदी, जो रोजाना 10 लीटर दूध देती है। नागेंद्र ने पीएम मोदी को बताया कि वो सात लीटर दूध बेच देते हैं और तीन लीटर दूध घर पर अपने परिवार के इस्तेमाल के लिए रखते हैं। इससे उसे रोजना 365 रुपये की आमदनी होती है। उसने बताया कि जहां वो अहमदाबाद में मजह 8 हजार रुपये महीने कमाता था, वहीं गोरखपुर में डेयरी खोलकर 11 हजार रुपये महीने कमा रहा है। उसने ये भी बताया कि वो जल्द ही तीन-चार भैंस रखने वाला है, ताकि आमदनी को और बढ़ाया जा सके।

अपनी भैंस को टीका जरूर लगवाना- पीएम मोदी

आपदा को अवसर में बदलने वाला नागेंद्र के हौसले और जज्बे ने पीएम मोदी को खासा प्रभावित किया। बातचीत के दौरान ही पीएम मोदी ने कहा कि वो अपनी भैंस का टीकाकरण जरूर करवाएं। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार ने फुट एंड माउथ डिसीज एवं ब्रुसोलिसिस को जड़ से खत्म करने के लिए देशभर में 13 हजार करोड़ रुपये से पशु टीकाकरण अभियान शुरू किया है। इसके साथ ही किसानों की तरह ही पशुपालकों के लिए किसान क्रेडिट कार्ड की सुविधा शुरू की गई है।

15 हजार करोड़ रुपये के फंड से 35 लाख रोजगार पैदा होंगे- प्रधानमंत्री

पीएम मोदी ने बताया कि इसके अलावा भी डेयरी औ पशुपालन सेक्टर के लिए कई कदम उठाए गए हैं। दो दिन पहले ही केंद्र सरकार ने पशुपालन और डेयरी सेक्टर के लिए 15 हजार करोड़ रुपये का एक विशेष इंफ्रास्ट्रक्चर फंड बनाया। उन्होंने कहा कि इस फंड से करीब 1 करोड़ और नए किसानों, पशुपालकों को डेयरी सेक्टर से जोड़ा जाएगा, साथ ही डेयरी से जुड़ी नई सुविधाएं तैयार की जाएंगी। पीएम मोदी ने कहा कि अनुमान है कि आने वाले समय में इससे गांवों में डेयरी और पशुपालन सेक्टर से जुड़े लगभग 35 लाख नए रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

Note:– कृपया इस खबर को अपने दोस्तों और डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/DAIRYTODAY/ पर लाइक अवश्य करें। हमें Twiter @DairyTodayIn पर Follow करें।

6total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें
error: Content is protected !!