गांधी नगर में मिल्क पाउडर प्लांट के उद्घाटन पर बोले अमित शाह- गुजरात की शान है अमूल डेयरी

डेयरी टुडे नेटवर्क,
गांधीनगर, 28 नवंबर 2021,

केंद्रीय गृहमंत्री और सहकारिता मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने रविवार को गुजरात के गांधीनगर में अमूल डेयरी (Amul Dairy) के नए मिल्क पाउडर प्लांट का उद्घाटन किया। इस अवसर पर श्री अमित शाह ने कहा कि अमूल के तीन महत्वपूर्ण अंग हैं, एक 36 लाख महिलाएं, दूसरा इस दूध को उपभोक्ताओं तक पहुंचाना और तीसरा अंग इस दूध से बने उत्पादों को उपभोक्ताओं तक पहुंचाना।

सहकारिता ही भारत का विकास कर सकती है- अमित शाह

केंद्रीय सहकारिता मंत्री अमित शाह ने कहा कि इतने बड़े देश में सभी का विकास करना और सभी को विकास की प्रक्रिया में शामिल करना बहुत मुश्किल काम है। पीएम बनने के बाद नरेन्द्र मोदी को इस बात का अहसास हुआ कि इतनी बड़ी आबादी वाले देश में अगर हर कोई विकास करना चाहता है तो सहयोग का एक मॉडल ही हो सकता है, और इसीलिए मोदी सरकार ने देश में सहकारिता मंत्रालय शुरू किया है, जिससे देश के लाखों नागरिकों को लाभ मिले।

 

अमूल गुजरात की शान

केन्द्रीय गृहमंत्री ने कहा कि अमूल अपना 75वां साल मना रहा है। इस मॉडल की कल्पना सरदार पटेल और त्रिभुवन दास ने की थी और फिर आज गुजरात के 18 हजार गांवों के 36 लाख परिवार, 21 गांवों और दो तालुकों से शुरू हुए इस सहकारी आंदोलन में शामिल हुए हैं। अमूल गुजरात की शान है। अमित शाह ने आगे कहा कि जब नरेंद्र मोदी ने सहकारिता मंत्रालय बनाया तो लोग मजाक कर रहे थे, लेकिन मेरे लिए यह गर्व की बात है कि मैं देश का पहला सहकारिता मंत्री बना हूं। इस मॉडल में न केवल देश की अर्थव्यवस्था बल्कि देश के प्रत्येक व्यक्ति के विकास को गति देने की क्षमता है।

सबका सहयोग ही मूल मंत्र

अमित शाह ने कहा कि यदि आप शिक्षित नहीं हैं, आपके पास पैसा नहीं है, लेकिन अगर हम सब मिलकर काम करें तो सफलता निश्चित है। अमूल में जहां 36 लाख बहनें एक साथ काम करती हैं, वहीं अमूल के पास 53,000 करोड़ रुपए का टर्न ओवर है।

अमूल ने दिखाई महिला सशक्तिकरण की ताकत

अमित शाह ने कहा कि पूरी दुनिया में महिला सशक्तिकरण की चर्चा होती है। फिर मैं उन लोगों से कहना चाहूंगा जो महिला सशक्तिकरण की बात कर रहे हैं, एक बार आप अमूल का उदाहरण देखिए। बता दें कि गुजरात सहकारी दुग्ध विपणन संघ (जीसीएमएमएफ) की दैनिक हैडलिंग क्षमता 50 लाख लीटर है। डेयरी की क्षमता बढ़ाने के लिए 150 टन की दैनिक क्षमता वाला एक नया अल्ट्रा-मॉडर्न मिल्क पाउडर प्लांट स्थापित किया गया है, जिसमें करीब 415 करोड़ रुपये की लागत आई है।

845total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें