वाराणसी में 500 करोड रुपये की लागत से डेयरी प्लांट स्थापित करेगी Banas Dairy

डेयरी टुडे नेटवर्क,
वाराणसी/पालनपुर, 7 सितंबर 2021,

एशिया की सबसे बडी कॉपरेटिव डेयरी बनासकांठा जिला सहकारी मिल्क प्रोड्यूसर्स यूनियन लिमिटेड यानी बनास डेयरी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी संसदीय क्षेत्र वाराणसी में डेयरी प्लांट स्थापित करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है। आपको बता दें कि इस डेयरी प्लांट के लिए वाराणसी में 51 बीघा जमीन आवंटित कर दी गई है। पिछले दिनों इस जमीन का जायजा लेने के लिए बनास डेयरी के चेयरमैन शंकर चौधरी की अगुवाई में डेयरी के निदेशक मंडल की एक टीम वाराणसी आई थी। श्री चौधरी ने बताया कि उन्होंने अपने अधिकारियों के साथ डेयरी स्थापित करने का कार्य जल्द शुरू करने को लेकर चर्चा की।

बनास डेयरी के चेयरमैन शंकर चौधरी के अनुसार उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास निगम की ओर से वाराणसी में बनास डेयरी के नए प्लांट के लिए 51 बीघा जमीन आवंटित की गई है। इस जमीन पर प्रतिदिन पांच लाख लीटर दूध की प्रोसेसिंग का प्लांट स्थापित किया जाएगा। जिसका फायदा न सिर्फ उत्तरप्रदेश के आसपास के पशुपालकों को होगा बल्कि बनासकांठा जिले के पशुपालकों को भी बडे पैमाने पर मिलेगा।

उन्होंने बताया कि वाराणसी में बनने जा रहे बनास डेयरी के नए प्लांट पर करीब 500 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। उन्होंने वाराणसी में डेयरी प्लांट के लिए जमीन मिलने पर पीएम नरेन्द्र मोदी का आभार भी जताया। श्री चौधरी ने कहा कि बनास डेयरी गुजरात के बाहर भी अपना दायरा फैलाने में जुटी है।

जाहिर है कि अभी बनास डेयरी के उत्तर प्रदेश में दो प्लांट कार्यरत हैं, जिसमें एक लखनऊ में और दूसरा कानपुर में चल रहा है। बनास डेयरी सूत्रों के अनुसार वाराणसी में बनने जा रहे इस नए प्लांट में आइस्क्रीम, पनीर, दही, छाछ भी बनाया जाएगा।

676total visits.

2 thoughts on “वाराणसी में 500 करोड रुपये की लागत से डेयरी प्लांट स्थापित करेगी Banas Dairy”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें