दूध और खाद्य तेलों की गुणवत्ता जांच FSSAI की प्रथामिकता में सबसे ऊपर : अरुण सिंघल, सीईओ

Share

डेयरी टुडे नेटवर्क (www.dairytoday.in),
नई दिल्ली, 25 जुलाई, 2020,

खाद्य वस्तुओं की गुणवत्ता आज सबसे बड़ी चुनौती है। देश में खाद्य वस्तुओं की क्वालिटी को बनाए रखने की जिम्मेदारी FSSAI यानी फूड सेफ्टी एंड स्टैंडर्ड अथॉरिटी ऑफ इंडिया की है। वरिष्ठ आईएएस अधिकारी और FSSAI के नए सीईओ श्री अरुण सिंघल में अपना पदभार संभालने के बाद पहली बार दि प्रिंट से साथ मीडिया संवाद में बताया कि केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार की प्रथामिकताओं में दूध, खाद्य तेल, शहद, मांस और पोल्ट्री प्रडोक्ट्स की गुणवत्ता बढ़ाना शामिल है। उन्होंने खाद्य वस्तुयों की गुणवत्ता बढ़ाने की अपनी योजनाओं के बारे में बताते हुए कहा कि FSSAI ऐसे खाद्य उत्पादों की पहचान करेगा जो मिलावट के लिए अतिसंवेदनशील हैं। साथ ही FSSAI उन हॉटस्पॉट्स की भी पहचान करेगा जहां इस तरह की मिलावट होती है।

उन्होंने कहा कि खाद्य सुरक्षा के संदर्भ में दूध, खाद्य तेल, शहद, मांस और पोल्ट्री की पहचान सबसे संवेदनशील उत्पादों के रूप में की जाती है। एफएसएसएआई खास कर दूध और खाद्य तेलों के मिलावट के हॉस्टस्पॉट का पता लगाने के लिए राष्ट्रीय स्तर पर अभियान चलाएगी और इसे रोकने के लिए बड़े स्तर पर सख्त कदम उठाए जाएंगे।

श्री अरुण सिंघल ने कहा कि एफएसएसएआई FBOs के तय समयावधि पर निरीक्षण और थर्ड पार्टी के द्वारा ऑडिट पर भी ध्यान केंद्रित करेगा। FSSAI ने पहले से ही 30 रैपिड फूड टेस्टिंग किट और उपकरणों को मंजूरी दे दी है ताकि फील्ड में फूड टेस्टिंग को सुनिश्चित किया जा सके। श्री सिंघल ने बताया कि FSSAI की चेन्नई और मुंबई में परीक्षण प्रयोगशालाओं के बुनियादी ढांचे और नई नेशनल फूड लेबोरेटरीज को सक्षम करने की योजना है। इस काम को सभी प्रयोगशाला तकनीशियनों के प्रशिक्षण और उनकी क्षमता को बढ़ाने में निवेश के साथ किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि FSSAI जल्द ही आयातित खाद्य उत्पादों के लिए नए नियम लाने जा रहा है। पहले से पैक किए हुए खाने या किसी अन्य कंटेनर में जमे हुए खाद्य पदार्थों पर अधिक ध्यान दिया जाएगा। इन नियमों के जरिए आयातित खाद्य पदार्थों के मामले में लेबलिंग मानदंडों का भी ध्यान रखा जाएगा। श्री सिंघल ने कहा कि FSSAI ऑनलाइन पंजीकरण और लाइसेंस के लिए अपने FOSCOS प्लेटफॉर्म को आसान बनाने के लिए भी काम कर रहा है। इसके साथ ही एफएसएसएआई खाद्य उत्पादों के लिए आयात मंजूरी को मजबूत करने की प्रक्रिया में भी जुटा है।

Note:– कृपया इस खबर को अपने दोस्तों और डेयरी बिजनेस, Dairy Farm व एग्रीकल्चर सेक्टर से जुड़े लोगों के साथ शेयर जरूर करें..साथ ही डेयरी और कृषि क्षेत्र की हर हलचल से अपडेट रहने के लिए हमारे फेसबुक पेज https://www.facebook.com/DAIRYTODAY/ पर लाइक अवश्य करें। हमें Twiter @DairyTodayIn पर Follow करें।

Share

3total visits.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लोकप्रिय खबरें